आज का पंचांग 3 अगस्त 2020, जानिए सोमवार के शुभ-अशुभ मुहूर्त

Aaj Ka Panchang 3 August 2020 Hindi Panchang Today Auspicious and Inauspicious Time

आज दिनांक 3 अगस्त 2020 श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि और दिन सोमवार का है। विक्रम संवत् 2077 है। सूर्य उत्तरायण की स्थिति में उत्तर गोलार्द्ध में मौजूद है। वर्षा ऋतु है। आज रक्षा बंधन है। पूर्णिमा तिथि रात्रि 09 बजकर 28 मिनट तक चलायमान रहेगी, इसके पश्चात भाद्रपद मास की प्रतिपदा तिथि का आरम्भ होगा।

आज सूर्य अश्लेषा नक्षत्र में रहते हुए कर्क राशि मे संचार करेगा, वहीं चंद्रमा दिन-रात मकर राशि मे संचार करेगा।

सूर्योदय: सुबह 05 बजकर 45 मिनट पर।
सूर्यास्त: शाम 07 बजकर 09 मिनट पर।

चंद्रोदय: शाम 07 बजकर 16 मिनट पर।
चन्द्रास्त: आज चन्द्रास्त नहीं है।

ये भी पढ़ें: रक्षाबंधन पर्व पर राखी बांधने हेतु कौन सा समय है शुभकारी और कौन सा है अशुभकारी

नक्षत्र: उत्तराषाढा नक्षत्र सुबह 07 बजकर 20 मिनट तक चलायमान रहेगा, जिसके बाद श्रवण नक्षत्र शुरू होगा।

योग: प्रीति योग प्रातः 06 बजकर 41 मिनट तक रहेगा, इसके बाद आयुष्मान योग की शुरुआत होगी।

करण: विष्टि करण सुबह 09 बजकर 26 मिनट तक, फिर इसके बाद बव करण रात 09 बजकर 27 मिनट तक बना रहेगा, तत्पश्चात बालव गर शुरू होगा।

ये भी पढ़ें: रक्षाबंधन पर भाई की राशि अनुसार बांधें इन रंगों की राखियां, भरेंगी उनके जीवन में खुशियां

आज के शुभ मुहूर्त

  • रवि योग प्रातः 05 बजकर 45 मिनट से प्रातः 07 बजकर 18 मिनट तक बना रहेगा।
  • सर्वार्थ सिद्धि योग प्रातः 07 बजकर 20 मिनट ऐसे 04 अगस्त 2020 प्रातः 05 बजकर 43 मिनट तक रहेगा।
  • अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12 बजकर 02 मिनट से दोपहर 12 बजकर 53 मिनट तक बना रहेगा।
  • विजय मुहूर्त दोपहर 02 बजकर 43 मिनट से दोपहर 03 बजकर 33 मिनट तक रहेगा।
  • गोधूलि मुहूर्त शाम 06 बजकर 58 मिनट से शाम 07 बजकर 19 मिनट तक है।
  • अमृत काल रात 09 बजकर 26 मिनट रात 11 बजकर 02 मिनट तक रहेगा।
  • निशिता मुहूर्त मध्यरात्रि 12 बजकर 08 मिनट (04 अगस्त 00:08 am) से लेकर मध्यरात्रि 12 बजकर 46 मिनट (04 अगस्त 00:46 am) तक रहेगा।
  • ब्रह्म मुहूर्त 04 अगस्त 2020 प्रातः 04 बजकर 22 मिनट से 04 अगस्त प्रातः 05 बजकर 01 मिनट तक बना हुआ है।

आज के अशुभ मुहूर्त

  • राहुकाल सुबह 07 बजकर 24 मिनट से सुबह 09 बजकर 06 मिनट तक बना रहेगा।
  • यमगण्ड सुबह 10 बजकर 45 मिनट से दोपहर 12 बजकर 28 मिनट तक है।
  • वर्ज्य काल सुबह 11 बजकर 27 मिनट से दोपहर 01 बजकर 08 मिनट तक रहेगा।
  • गुलिक काल दोपहर 02 बजकर 07 मिनट से दोपहर 03 बजकर 50 मिनट तक रहेगा।
  • दुर्मुहूर्त काल का प्रभाव पहले दोपहर 12 बजकर 53 मिनट से दोपहर 01 बजकर 49 मिनट तक, फिर इसके बाद दूसरी बार दोपहर 03 बजकर 34 मिनट से शाम 04 बजकर 30 मिनट तक बना रहेगा।


राजीव दीक्षित संस्थान द्वारा आयुर्वेदिक एवं स्वदेशी उत्पाद खरीदें, और संस्था को आगे बढ़ाने में सहयोग करें
अभी आर्डर करें