Shani Margi 2020: सभी 12 राशियों पर शनि के मार्गी होने का असर

Shani Margi September 2020 Effects on All Zodiac Signs

ग्रह गोचरों के स्थिति परिवर्तन के दरमियान राहु और केतु की राशि परिवर्तन के पश्चाताप शनि 29 सितंबर की सुबह मार्गी होने हो चूका है। 29 सितंबर 2020 की सुबह 10 बजकर 28 मिनट पर शनि मार्गी गए हैं, अर्थात वक्री चाल से अपनी वक्री चाल में प्रवेश कर चुके हैं। यानी कि अब शनि अपनी चाल सीधी चल रहे हैं जो कई जातकों के लिए शुभकारी तो कई जातकों के लिए अशुभ प्रभाव दर्शाने वाला साबित होगा।

शनि के प्रभाव से हम सभी वाकिफ हैं। शनि के संबंध में यह प्रचलित है कि जिन भी जातकों से शनि कुपित हो जाते हैं, उनके ऊपर अनेकानेक प्रकार के नकारात्मक प्रभाव दर्शाते हैं। जिन जातकों के ऊपर शनि की ढैया, साढ़ेसाती व वक्री आदि का प्रभाव पड़ता है, उन जातक के जीवन में अनेकानेक प्रकार के कष्ट आदि निरंतर बने रहते हैं। वहीं जिन जातकों के लिए शनि का प्रभाव शुभकारी होता है, वे जातक तनिक समय में ही रंक से राजा बनने की स्थिति में आ जाते हैं। ऐसे जातक के जीवन में खुशहाली की बहार आती है, जीवन की हर समस्याओं का समाधान हो जाता है और घर-परिवार का माहौल खुशहाल व कारोबार उन्नति की ओर अग्रसर रहता है।

ऐसे में शनि की गतिविधियों में आ रहा परिवर्तन जातकों के जीवन पर अत्यंत ही उतार चढ़ाव से युक्त प्रभाव दर्शायेगा। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक शनि इसी वर्ष की 11 मई की तिथि से वक्री की चाल चल रहे थे जो अब मार्गी होने हो चुके हैं जिस वजह से जिन जातकों के लिए शनि के अशुभकारी प्रभाव लंबे अरसे से चले आ रहे थे, उनके लिए अब शनि सकारात्मक परिणाम दर्शाने वाले साबित होने वाले हैं। ऐसे में लंबे समय से समस्याओं से जूझ रहे जातकों के लिए यह राहत एवं शुभ परिणाम दर्शाने वाले खबर साबित होने वाला है, तो कुछ के लिए अत्यंत ही अशुभकारी भी होंगे।

शनि मकर तथा कुंभ राशि के स्वामी है जो की मेष राशि में नीच राशिगत और तुला राशि में उच्च राशिगत संज्ञक माने जाते हैं। ऐसे में शनि के वक्री होने का अशुभ प्रभाव किन जातकों के ऊपर परिलक्षित होने वाला है, तथा किन के ऊपर शुभ प्रभाव दर्शाने वाला है, यह जानना अत्यंत ही रोचक हो जाता है। तो आइए जानते हैं 12 राशियों के ऊपर शनि के मार्गी होने का प्रभाव।

शनि के मार्गी होने का सभी राशियों पर असर

मेष राशि

मेष राशि के जातकों के दशम भाव में शनि देव मार्गी होने जा रहे हैं जिससे आपके दशम भाव अर्थात कर्म भाव पर कुछ सकारात्मक तो कुछ नकारात्मक प्रभाव परिलक्षित होगा। आप के कारोबार की स्थिति बेहतर होगी किंतु आपके खर्च में बढ़ोतरी होगी जिस वजह से आर्थिक स्थिति उतार-चढ़ाव से युक्त हो जाएगी। वहीं माता-पिता के स्वास्थ्य पर आपको ध्यान देने की आवश्यकता है, उनकी सेहत में गिरावट देखने को मिल सकती है। राजनीति से जुड़े जातकों के लिए भी यह समय काफी बेहतर रहने वाला है, आप शुभ परिणाम की प्राप्ति करेंगे। इस दौरान आपके पारिवारिक जिम्मेदारियों व पारिवारिक कार्यों में भी बढ़ोतरी होगी जो कहीं ना कहीं आपके लिए मानसिक तौर पर परेशानियों का कारण बनेगा।

वृषभ राशि

वृषभ राशि के जातकों के भाग्य भाव में शनि का मार्गी होना आपके लिए अत्यंत शुभकारी परिणाम दर्शा रहा है। इस दौरान आपके भाग्य के सितारे बुलंद होंगे। आपके द्वारा निर्धारित नीतियों पर अनुकूल तौर पर कार्य होगा। कारोबार में आपको अप्रत्याशित सफलता व लाभ की प्राप्ति हो सकती है। इन दिनों आपके अटके हुए कार्यों के आसानी से बन जाने के आसार नजर आ रहे हैं। पारिवारिक जीवन में वरिष्ठ जनों के साथ आपके संबंध बिगड़ सकते हैं। धार्मिक क्रियाकलापों में आप अपना अधिक समय व रुचि दिखाएंगे। यदि विदेशी नागरिकता अथवा विदेश में नौकरी आदि हेतु प्रयासरत है तो यह समय आपके लिए सफलता प्रदायक रहेगा।

मिथुन राशि

शनि के मार्गी होने का मिथुन राशि के जातकों के ऊपर नकारात्मक प्रभाव परिलक्षित होने वाला है। आपके ऊपर पूर्व से ही शनि की ढैया का प्रभाव बना हुआ है जिस वजह से इस ग्रह गोचर का परिवर्तन आपके लिए प्रतिकूल परिणाम दर्शाएगा। वहीं भिन्न-भिन्न प्रकार की समस्याएं व घर परिवार से जुड़े तथ्यों को लेकर आप मानसिक तनाव से ग्रसित रहेंगे। आपको फिजूल के तथ्यों में अपना अधिक समय लगाना पड़ सकता है। ऐसे में स्वयं पर भरोसा रखें एवं धैर्य बनाकर कार्यों को संपन्न करने की चेष्टा करें।

आगे जानें अन्य राशियों पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में...



राजीव दीक्षित संस्थान द्वारा आयुर्वेदिक एवं स्वदेशी उत्पाद खरीदें, और संस्था को आगे बढ़ाने में सहयोग करें
अभी आर्डर करें