इस दीपावली करें ये उपाय, महालक्ष्मी रहेंगी साल भर प्रसन्न

Special Diwali Upay to Please Maa Lakshmi

भारत त्योहारों का देश है। यहां साल भर में अनेकों त्योहार आते हैं जो हमें अपनी संस्कृति से जोड़कर रखते हैं। ऐसा ही एक त्योहार है दीपावली। यह हिंदुओं का सबसे बड़ा त्योहार माना जाता है। प्रकाशोत्सव में जीवन से अज्ञानता का अंधकार समाप्त होता है और ज्ञान रूपी प्रकाश हमारे जीवन में फैलने लगता है। इस शुभ पर्व पर हम जीवन में सुख समृद्धि की कामना करते हैं, इसलिए इस दिन माँ लक्ष्मी की पूजा विशेष रूप से की जाती है। यह माँ लक्ष्मी की अनुकंपा प्राप्त करने के लिए यह बड़ा ही शुभ दिन माना जाता है। घर में सभी की सुख-समृद्धि के और माँ लक्ष्मी के स्थिर वास के लिए इस दिन माँ लक्ष्मी की पूजा शुभ मुहूर्त में ही की जानी चाहिए एवं दिनभर माँ लक्ष्मी का उपवास रखना चाहिए। इसके साथ-साथ हमें दीपावली पर कुछ विशेष उपाय करने चाहिए जिससे कि साल भर परिवार में सुख समृद्धि बनी रहती है और धन की कहीं कोई कमी नहीं रहती। तो आइये जानते हैं कुछ ऐसे उपाय जिनसे साल भर माँ लक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहेगी।

नई झाड़ू से करें पूरे घर में सफाई

यह माना जाता है कि महालक्ष्मी उसी घर में प्रवेश करती हैं, जहां कोई गंदगी ना हो और सब जगह स्वच्छता का समावेश हो। दीपावली में हमें एक नई झाड़ू खरीदनी चाहिए और फिर इस झाड़ू की पूजा कर हमें इससे पूरे घर की सफाई करनी चाहिए। इसके बाद उस झाड़ू को कहीं एक स्थान पर छुपा कर रख देना चाहिए। ऐसा करने से आपके धन में बरकत बनी रहेगी। साथ ही साथ अगर दिवाली के दिन आप एक झाड़ू का दान किसी मंदिर में करते हैं, तो उससे भी माँ लक्ष्मी जल्दी प्रसन्न होती है।

कुल देवताओं की भी पूजा करें

कुल देवताओं की पूजा कई अवसरों पर विशेष रूप से की जाती है। अगर हम दिवाली पर माँ लक्ष्मी, भगवान गणेश और अन्य देव गणों के साथ कुल देवता की पूजा भी करते हैं, तो यह बहुत ही लाभदायी सिद्ध होता है। यह पूजन हमें शुभ मुहूर्त पर ही करना चाहिए और पूरे विधि विधान के साथ कुल रीत के अनुसार ही किया जाना चाहिए। इसी के साथ हमें पूजन में पीली कौड़ियों रखनी चाहिए। पूजन में पीली कौड़ी रखने से सुख-समृद्धि व धन की देवी माँ लक्ष्मी बहुत ही जल्दी प्रसन्न होती है और उनकी कृपा दृष्टि आप पर सदैव बनी रहती है। पूजा में इस्तेमाल किये सिक्कों को अगर आप लाल रंग के कपड़े में सुनहरे धागे से लपेटकर रखते हैं, तो इससे भी माँ लक्ष्मी जल्दी प्रसन्न होती है। इन उपायों से आपका रुका हुआ धन आना शुरू हो जाता है और आपकी धन संबंधी सभी समस्याएँ भी समाप्त होने लगती हैं।

दीयों की संख्या का रखें विशेष ध्यान

दीपावली दीयों का त्योहार है। इन दिनों अमावस्या की काली रात दीयों और बल्बों से जगमगा उठती है। दीपावली पर दीये लगाने का विशेष महत्व है। दीये हमें एक विशेष संख्या में ही लगाने चाहिए। 11, 21 और 51 यह तीनों ही दीपक लगाने के लिए शुभ संख्या मानी गई है। दीपकों के साथ-साथ दीपावली पर हमें उत्तर दिशा में नीले व पीले रंगों की बल्ब भी लगाने चाहिए। इन बल्बों से माँ लक्ष्मी जल्दी प्रसन्न होती है और माँ का आगमन घर में होता है। यदि हम इन दोनों उपायों को ठीक प्रकार से करते हैं तो घर की तिजोरियां हमेशा धन धान्य से भरी रहती है।

भगवान कुबेर की भी करें पूजा

कुबेर को स्थिर धन का देवता कहा जाता है। इस दिन माँ लक्ष्मी और भगवान गणेश के साथ-साथ कुबेर जी की भी पूजा की जाती है। उत्तर दिशा भगवान कुबेर की मानी जाती है। यदि हम इस दिशा में झाड़ू पोछा लगाकर पानी से भरा एक कटोरा या फव्वारा रखते हैं तो उससे भगवान कुबेर अत्यंत प्रसन्न होते हैं और उनकी कृपा हमारे ऊपर बरसने लगती है। इस उपाय को करने से घर में कभी भी धन की कमी नहीं होती है

घर के द्वार को तोरण से सजाएं

दीपावली महालक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए साल भर में सबसे शुभ दिन माना जाता है। कहा जाता है कि अगर इस दिन हम महालक्ष्मी को प्रसन्न करने में कामयाब होते हैं तो साल भर माँ लक्ष्मी की कृपा दृष्टि हम पर बनी रहती है। महालक्ष्मी को अपने घर में आमंत्रित करने के लिए हमें घर के द्वार को तोरण से सजाना चाहिए। तोरण के लिए या तो आम के पत्तों का या फिर अशोक के पत्तों का इस्तेमाल करना अधिक शुभ माना जाता है। इसी के साथ-साथ हमें घर के मुख्य द्वार पर चावल और सिंदूर के मिश्रण से माता लक्ष्मी के पदम् चिन्हों को मुख्य रूप से अंकित करना चाहिए और इन चिन्हों की दिशा घर के अंदर प्रवेश करती हुई होनी चाहिए। ऐसा करने से हम माँ लक्ष्मी को हमारे घर में प्रवेश के लिए दिशा दर्शाते हैं। यदि हम मुख्य द्वार पर हल्दी से ॐ और स्वस्तिक चिन्ह भी बनाते हैं तो यह और अधिक शुभ माना जाता है। इस उपाय को करने से माँ लक्ष्मी जल्दी प्रसन्न होती है और हमारे घर में प्रवेश करती हैं।

तिजोरी को रखें उत्तर दिशा में

धन-धान्य और सुख समृद्धि को बढ़ाने के लिए पैसे रखे जाने वाली वस्तुएं जैसे तिजोरी, सेव आदि को हमें घर की उत्तर दिशा में रखना चाहिए एवं उनके दरवाजों में तेल डालना चाहिए ताकि वे दरवाजे खोले जाने पर आवाज ना करें। ऐसा करने से घर में धन के आगमन का प्रवाह तेज होता चला जाता है। यदि घर में नकारात्मक ऊर्जा होती है, तब भी देवगण घर में प्रवेश नहीं करते। नकारात्मक ऊर्जा को घर से हटाने के लिए हमें ईशान कोण में चांदी या स्टील के बर्तन में पानी और पीले फूल डालकर रखने चाहिए। पानी में सेंधा नमक को डालकर पूरे घर में छिड़काव करने से भी घर की नकारात्मक ऊर्जा तुरंत खत्म हो जाती है।

यदि आप इन सभी उपायों को पूरी श्रद्धा व नियमानुसार करते हैं तो आपका संपूर्ण साल सुख-समृद्धि व धन-धान्य से पोषित रहेगा।



राजीव दीक्षित संस्थान द्वारा आयुर्वेदिक एवं स्वदेशी उत्पाद खरीदें, और संस्था को आगे बढ़ाने में सहयोग करें
अभी आर्डर करें