मनी प्लांट से जुड़े वास्तु उपाय जो बढ़ाएंगे सुख समृद्धि

Money Plant Vastu Tips for Wealth and Peace

वास्तुशास्त्र व्यक्ति के जीवन की हर छोटी-बड़ी चीजों को प्रभावित करता है। यह किसी भी जातक के आसपास की वस्तुओं, उसके रहन- सहन, खान- पान,  तौर- तरीके, परिवेश आदि सभी से प्रभावित होता है। वास्तु ज्योतिष शास्त्र का एक अहम भाग है और ज्योतिष, सनातनी आध्यात्म का हिस्सा है। वहीं सनातनी आध्यात्म का सीधा संबंध वैज्ञानिक तथ्यों से है। कुल मिलाकर आपके वास्तु का प्रभाव आपके जीवन भर प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से अवश्य ही परिलक्षित होता है।

व्यक्ति को अपने वास्तु के अनुसार अपने जीवन में सकारात्मक तथ्यों का वहन कर नकारात्मक तथ्यों को दूर भी करना चाहिए। वास्तु शास्त्र हमें ऐसे कई छोटे-बड़े उपाय बताता है, जिसके माध्यम से अपने जीवन को सुखी व खुशहाल बना सकते हैं। वास्तु के सरल उपायों में से पेड़ पौधों से जुड़ी कुछ विशेष उपाय हैं। वास्तु शास्त्र आपके घर के बगीचे में लगने वाले पेड़, फूल, पौधे के रंग, पौधे की नस्ल आदि का भी उचित तरीके से निर्धारण करता है। कई बार हम वास्तु के मुताबिक कार्य ना कर अनजाने में भूल कर जाते हैं जिसका प्रभाव हमारे जीवन पर परलक्षित होता है।

आज हम आपको धन लाभ हेतु वास्तु से जुड़े पेड़ पौधे उनकी दशा-दिशा, नस्ल आदि से संबंधित किस विशेष जानकारियां देंगे जिसमें हम बात मनी प्लांट की करेंगे। जिस प्रकार हिंदू धर्म में वैदिक सभ्यता के अनुसार तुलसी का पौधा सुख समृद्धि का प्रतीक माना जाता है, जिस प्रकार से धर्म ग्रंथों में वर्णित है कि हर घर में तुलसी का पौधा अवश्य ही लगाया जाना चाहिए, इससे सुख-समृद्धि व खुशहाली बनी रहती है। कुछ स्थानों पर तो तुलसी के पौधे के गुणों का बखान करते हुए यह भी कहा गया है कि तुलसी के पौधे में आने वाले परिवर्तन आपके जीवन एवं घर संसार में होने वाले परिवर्तन को दर्शाता है। अगर तुलसी का पौधा सूख रहा हो तो समझ लीजिए कि आपके घर पर किसी का बुरा साया पड़ रहा है, अथवा किसी बड़े दुख कष्ट आदि से आपका घर परिवार पीड़ित होने वाला है।

ये भी पढ़ें: अपना राशिफल जानें

कुछ इसी प्रकार वास्तुशास्त्र में मनी प्लांट को भी महत्व दिया गया है। वास्तु शास्त्र के अनुसार मनी प्लांट व्यक्ति की समृद्धि को दर्शाता है। इसकी ग्रोथ, इस में होने वाले परिवर्तन, इसका गहरा रंग घर की सुख-समृद्धि को का बखान करता है, तो वहीं मनी प्लांट का सूखना घर के सदस्यों के ऊपर आने वाले किसी बड़े संकट का संकेत माना जाता है।

वास्तु शास्त्र में मनी प्लांट को ना सिर्फ सुख, समृद्धि अपितु पारिवारिक खुशहाली का भी प्रतीक माना गया है। इस कारण से प्रायः जातक अपने घर में मनी प्लांट लगाते हैं। किंतु कई बार ज्ञान के अभाव अथवा भूल चूक में मनी प्लांट की दिशा वास्तु के अनुरूप ना लगाने से आपके जीवन पर इसके बुरे परिणाम में परिलक्षित होने लग जाते हैं।

तो आइए आज हम मनी प्लांट से जुड़ी आपकी अज्ञानता को दूर करने एवं आपके घर में सुख, समृद्धि व खुशहाली को बढ़ाने हेतु मनी प्लांट से जुड़े कुछ खास तथ्यों के बारे में जानकारी देंगे जिससे कि आपके घर में सुख, समृद्धि सदैव बनी रहेगी। आइए जानते हैं मनी प्लांट के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां।

मनी प्लांट से जुड़े तथ्य और सरल उपाय

1)  प्रायः लोगों को यह लगता है कि मनी प्लांट केवल आपकी आर्थिक स्थिति को प्रभावित करता है अथवा आपके धन से ही जुड़ा है, जबकि वास्तु शास्त्र यह कहता है कि मनी प्लांट आपकी आर्थिक स्थिति के साथ-साथ पारिवारिक खुशहाली को भी बढ़ाने का कार्य करता है। यह घर में निहित नकारात्मक ऊर्जाओं का अवशोषण कर सकारात्मकता को फैलाने का कार्य करता है।

2) यदि आप के घर पर वास्तु दोष अथवा ग्रह दोष आदि है तो आप अपने घर के अंदर मनी प्लांट को स्थापित करें। मनी प्लांट के संबंध में सबसे रोचक बात यह है कि इसे बढ़ने के लिए सूरज की रोशनी की आवश्यकता नहीं पड़ती। अतएव आप इस पेड़ को कहीं भी लगा सकते हैं। बस इसमें पानी नियमित रूप से डालते रहें एवं इसकी देखरेख करते रहें।

3)  विज्ञान और वास्तु के अनुसार मनी प्लांट को हमेशा घर के अंदर ही लगाना चाहिए। इसे आप अपने लिव-इन एरिया अथवा आंगन या  फिर आप जहां भी लगाना चाहते हैं, वहाँ लगा सकते हैं। किंतु इसे घर के बाहर की तरफ ना रखें, इससे आपके फायदे की जगह नुकसान ही होगा।

4) अगर आपने मनीप्लांट देखा होगा तो आपने इस बात पर भी गौर किया होगा कि मनी प्लांट की बेल काफी तेजी से बढ़ती जाती है, जो जमीन को छूने लगती है। वहीं वास्तु के नियमों के अनुसार मनी प्लांट की बेल का जमीन को स्पर्श करना आपके लिए अशुभकारी प्रभाव दर्शाता है। अतएव यदि आपके घर में लगे मनी प्लांट की बेल काफी बढ़ने लगे तो आप इसे डंडे अथवा किसी अन्य माध्यम से दीवार पर चढ़ा दे या फिर कोई ऐसी सुविधा कर दें जिससे कि उसकी बेल जमीन से स्पर्श ना कर पाए।

5) मनी प्लांट की पत्तियों का सूखना शुभ नहीं माना जाता है, अतः इसे सूखने ना दें। आप इसमें नियमित पानी डालकर इसकी देखरेख करते रहे। अगर आप के घर के मनी प्लांट की पत्तियां पीली पड़ रही हैं तो आप इसकी कटाई छटाई कर इसे ठीक करें।

6) वास्तु के अनुसार मनी प्लांट का शुभकारी प्रभाव वैवाहिक जीवन पर भी दृश्य मान होता है। अतः अगर कभी भी किसी दंपति के मध्य बेवजह लड़ाई-झगड़े हो रहे हो, अथवा किसी बात को लेकर आप के मध्य अनावश्यक वाद-विवाद हो जाता हो, तो आप अपने कमरे में कांच की बोतल में मनी प्लांट को लगा कर रखें। इससे आपके रिश्ते में मिठास आएगी एवं आपके जीवन पर का शुभ व सकारात्मक प्रभाव परिलक्षित होगा।

7) मनी प्लांट की दिशा को लेकर प्रायः जातक अनभिज्ञ रहते हैं, किंतु वास्तु के अनुसार मनी प्लांट लगाने हेतु सबसे शुभकारी एवं उचित दिशा दक्षिण पूर्व की दिशा मानी जाती है। अतः आप अपने घर के दक्षिण पूर्व दिशा में मनी प्लांट को लगाएं। इससे आपके घर-परिवार में सुख-समृद्धि एवं खुशहाली का वातावरण सदैव बना रहेगा।

8) मनी प्लांट को भूलकर भी उत्तर की दिशा में नहीं लगाना चाहिए। उत्तर की दिशा में अथवा उत्तर-पूर्व की दिशा में लगाया जाने वाला मनी प्लांट सदैव आपके घर-परिवार हेतु अशुभकारी परिणाम ही दर्शाएगा। अतएव मनी प्लांट के दिशा का विशेष ख्याल रखें।



राजीव दीक्षित संस्थान द्वारा आयुर्वेदिक एवं स्वदेशी उत्पाद खरीदें, और संस्था को आगे बढ़ाने में सहयोग करें
अभी आर्डर करें